Wednesday, March 14, 2018 गैलापागोस में प्लास्टिक प्रदूषण के बढ़ते उफान से लड़ाई

चार्ल्स डार्विन के विकासवाद के सिद्धांत का प्रेरणास्रोत रहा इक्वाडोर का यह द्वीप समूह भी वैश्विक प्लास्टिक उफान से अछूता नहीं है।

Récit

जब सफाई स्वयंसेवकों को गैलापागोस द्वीप समूह पर एक इंडोनेशियाई ब्रांड का सोडा कैन मिला तो यह उनके लिए कोई हैरानी वाली बात नहीं थी। वे कई महीनों से इक्वाडोर के तट से 600 किलोमीटर दूर इस प्रतिष्ठित द्वीप समूह की सफाई कर रहे हैं और कई टन प्लास्टिक कचरा निकाल रहे हैं, जिसमें से अधिकांश को ग्रह के दूसरे हिस्सों से इस द्वीप में लाया जाता है।

चार्ल्स डार्विन के विकासवाद के सिद्धांत का प्रेरणास्रोत रहा इक्वाडोर का यह द्वीप समूह भी वैश्विक प्लास्टिक उफान से अछूता नहीं रहा है। द्वीप के तटों पर बहकर आने वाला कचरा यहां के नाजुक पारिस्थितिक तंत्रों, और इन पारिस्थितिक तंत्रों पर खाने व आजीविका के लिए निर्भर रहने वाले लोगों के लिए संकट है। 138,000 वर्ग किलोमीटर क्षेत्रफल वाला गैलापागोस मरीन रिज़र्व दुनिया के सबसे बड़े संरक्षित समुद्री क्षेत्रों में शामिल है। इस द्वीप समूह पर 2,900 से अधिक प्रजातियां हैं, जिनमें से कई प्रजातियां पूरे ग्रह पर कहीं और नहीं पाई जाती: यहां के 86 प्रतिशत से अधिक रेंगने वाले जंतु स्थानीय हैं। स्तनधारियों की संख्या में स्थानीय प्रजातियों का योगदान 27 प्रतिशत और पक्षियों का 25 प्रतिशत है। कोरमोरैंट पक्षी, समुद्री इगुआना, पेंग्विन, सील और डार्विन का मशहूर फ़िंच समूह और विशालकाय कछुए इस द्वीप समूह की प्रसिद्ध प्रजातियां हैं। इसकी महत्त्वपूण पारिस्थितिक, सांस्कृतिक और आर्थिक संपदा की वजह से, गैलापागोस को 1978 में यूनेस्को (UNESCO) विश्व धरोहर स्थल घोषित किया गया था।

लेकिन मानव इस प्राचीन और अछूते पारिस्थितिक तंत्र को बदल रहे हैं: हाल ही में गैलापागोस राष्ट्रीय उद्यान और सैनफ़्रांसिस्को क्वीटो विश्वविद्यालय के तत्त्वाधान में संयुक्त रूप से एक जांच की गई। इसमें फ़िंच के घोसलों के अलावा समुद्री कछुओं और समुद्री पक्षी अल्बट्रोस के पेट में प्लास्टिक कचरा पाया गया।

Galapagos lizard
सांताक्रूज़ द्वीप, गैलापागोस में समुद्री इगुआना (संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण)

प्लास्टिक अपघटित होकर सूक्ष्म कणों में तब्दील हो जाता है, जिन्हें इकट्ठा करना मुश्किल है और ये किसी न किसी तरह आहार श्रृंखला में प्रवेश कर जाते हैं। ज़ॉर्ज कैरियॉन, गैलापागोस राष्ट्रीय उद्यान के निदेशक कहते हैं “कई जानवर [प्लास्टिक के टुकड़ों को] समुद्री प्रजातियों के अंडे समझ लेते हैं जो उनका सामान्य आहार हैं।”

यह अनुमान है कि हर साल लगभग 13 मिलियन मीट्रिक टन प्लास्टिक को दुनिया भर के समुद्रों में फेंका जाता है। इस कचरे में कम से कम 50 प्रतिशत इस्तेमाल के बाद फेंका जाने वाला प्लास्टिक होता है, जो पर्यावरण में 500 वर्षों तक बना रह सकता है।

गैलापागोस के अधिकारियों ने द्वीप समूह पर प्लास्टिक प्रदूषण का मुकाबला करने के लिए महत्त्वपूर्ण कदम उठाए हैं, और यहां तक कि उन्होंने 2018 को प्लास्टिक प्रदूषण के खिलाफ़ जंग का वर्ष घोषित कर दिया है। इससे सरकारों, वैज्ञानिकों और नागरिकों के संयुक्त प्रयासों को बल मिला है।

Galapagos clean-up
गैलापागोस के निवासी गंदगी एकत्रित करते हुए (गैलापागोस राष्ट्रीय उद्यान)

सर्वाधिक जनसंख्या वाले द्वीप, सांताक्रूज़ के एक कचरा प्रबंधन कार्यक्रम से, पुनःचक्रण के योग्य ठोस कचरे की 45 प्रतिशत रिकवरी हुई है, जो इक्वाडोर में सबसे अधिक है। प्लास्टिक बोतल और कैन जैसे उत्पादों को स्थलीय इक्वाडोर पर पुनःचक्रण के लिए भेजा जाता है जबकि ग्लास की बोतलों जैसे अन्य उत्पादों को स्थानीय स्तर पर पुनःउपयोग किया जाता है। वर्ष 2015 के एक प्रस्ताव के द्वारा, गैलापागोस विशिष्ट प्रशासन की गवर्निंग काउंसिल ने द्वीप समूह में हैंडलदार प्लास्टिक बैग के प्रवेश पर पाबंदी लगा दी, और अधिकारी एक बार उपयोग में आने वाले प्लास्टिक पर भी प्रतिबंध लगाने पर विचार कर रहे हैं।

तटों की नियमित साफ-सफाई में संपूर्ण द्वीप समूह पर निवासी भी हिस्सा लेते हैं। हाल ही में द्वीप समूह के कुछ दूरस्थ तटों पर हुए सफाई कार्यक्रम के दौरान, लगभग 2.5 टन कचरा इकट्ठा किया गया।

“इक्वाडोर में हम विकास के नए स्वरूप को प्रोत्साहित करते हैं, जिसका आधार मानव और प्रकृति के बीच संतुलन है,” यह कहना है तारसीसियो ग्रानिज़ो का, जो इक्वाडोर के पर्यावरण मंत्री हैं। “गैलापागोस द्वीप के निवासी इस बात का उदाहरण हैं कि किस तरह जागरूक नागरिक यह समझते हैं कि जैव विविधता एक रणनीतिक संसाधन है और इसलिए वे समुद्री प्रदूषण से सक्रियता से लड़ने का जज़्बा रखते हैं।”

अपने भरण-पोषण के लिए समुद्र पर निर्भर रहने वाले, गैलापागोस के मछुआरे भी हाथ पर हाथ रखकर नहीं बैठे हैं। वे प्लास्टिक के जाल का इस्तेमाल बंद करने की दिशा में काम कर रहे हैं और सक्रियता के साथ पानी के भीतर से कचरा एकत्रित कर रहे हैं।

Galapagos straws
पुएर्तो अयोरा, गैलापागोस का एक स्थानीय व्यवसाय #प्लास्टिकप्रदूषणकोहराने के लिए मेटल (धातु) स्ट्रॉ का इस्तेमाल करता है। (संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण)

पारंपरिक मछुआरों के एक समूह के सदस्य, अल्बर्टो आंद्रादे ने कई सफाई अभियानों में हिस्सा लिया है, जिनके दौरान उन्हें चीन में निर्मित प्लास्टिक की बोतलें तो मिली ही हैं, साथ ही साथ सेंट्रल अमेरिका, मेक्सिको और पड़ोसी पेरू से आया कचरा भी मिला है। वह सैकड़ों जानवरों को उन जालों में फंसा देख चुके हैं जिन्हें मछुआरे समुद्र में छोड़ देते हैं या जो खो जाते हैं। वे कहते हैं, “यह एक खौफ़नाक स्थिति है, लेकिन संरक्षण करना गैलापागोस के स्वभाव में है।”

सोशल नेटवर्क की मदद के ज़रिए आंद्रादे विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े लोगों को प्लास्टिक प्रदूषण को हराने के लिए एकत्रित करने में सफल रहे हैं। गैलापागोस मरीन रिज़र्व द्वीप समूह इंसुलर फ्रंट, जो उनके समूह का नाम है, द्वीप समूह में इस्तेमाल के बाद फेंक दिए जाने वाले प्लास्टिक पर प्रतिबंध को प्रोत्साहित करता है। यह समूह रेस्टोरेंट को प्लास्टिक के स्ट्रॉ का इस्तेमाल बंद करने के लिए प्रोत्साहित कर रहा है। वे गर्व से कहते हैं, “पहले से ही कुछ रेस्टोरेंट हैं जो मेटल स्ट्रॉ का इस्तेमाल करते हैं।”

राष्ट्रीय उद्यान के निदेशक कैरियॉन का कहना है “हमारे पास अब भी वक्त है कि हम द्वीप समूह को समुद्री कचरे से बचा सकते हैं, स्वस्थ जैव विविधता बनाए रख सकते हैं और गैलापागोस को विकासवाद की प्रयोगशाला के रूप में संरक्षित कर सकते हैं,”। “लेकिन अपने कचरे के बेहतर प्रबंधन की दिशा में द्वीप समूह को अब भी लंबी दूरी तय करनी है।”

इक्वाडोर स्वच्छ समुद्र अभियान का हिस्सा बन गया है, जो समुद्री कचरे से निपटने के लिए संयुक्त राष्ट्र का सबसे महत्त्वाकांक्षी प्रयास है। यह अभियान सरकारों, प्राइवेट सेक्टर और नागरिकों के बीच दुनिया के महासागरों की सफाई के लिए साझेदारी को प्रोत्साहित करता है।प्लास्टिकप्रदूषणकोहराएंविश्व पर्यावरण दिवस 2018 का विषय भी है। 

सागरों और महासागरों पर संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण के कार्य के बारे में अधिक जाने।

Publications récentes
Stories Alimenter les navires grâce au plastique à Amsterdam

Dans le port d'Amsterdam, une nouvelle usine qui pourrait révolutionner la manière dont nous nous débarassons de nos déchets en plastique est en cours de construction. A l'aide d'une technologie révolutionnaire, l'installation utilisera du plastique non recyclable et le transformera en carburant pour les cargos à moteur diesel.

Stories L'interdiction de l'importation des déchets par la Chine lève le voile sur les problèmes mondiaux du recyclage mais offre également des opportunités

La décision de la Chine d'interdire les importations de déchets en provenance de l'étranger, dont certains plastiques, s'est répercutée dans le monde entier, les opérations de recyclage dans de nombreux pays rencontrent des difficultés pour s'adapter à cette nouvelle réalité. Mais des opportunités se cachent-elles dans cette crise ?